Friday, February 26, 2016

कभी कभी प्रभू  की सत्ता पर से विस्वास  उठ जाता है क्योंकि वे उन लोगो का साथ देंते हैं जो पापी हैं। मैंने अक्सर देखा है की जो लोग झूंठ चोरी अधर्म पाप कर्म करते है वे ज्यादा ख़ुशी होते है उन्हें किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं होती है।  लेकिन जो लोग सत्य के मार्ग  में चलते है, धर्म का पालन करते है, वे दुखी रहतें हैं, उन्हें कोई न कोई परेशानी लगी रहती है, पता नहीं ऐसा क्यों होता है ?